प्रभु श्री राम की जन्मस्थली पर मंदिर निर्माण, श्री गोरक्षपीठ के अभीष्ट लक्ष्यों में प्रथम था।

उत्तर प्रदेश लखनऊ उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश लखनऊ

प्रभु श्री राम की जन्मस्थली पर मंदिर निर्माण, श्री गोरक्षपीठ के अभीष्ट लक्ष्यों में प्रथम था।

अब यह पुण्यकार्य प्रारंभ हो गया है।

ब्रह्मलीन महंत दिग्विजयनाथ जी महाराज की 51वीं एवं ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ जी महाराज की 6वीं पुण्यतिथि के अवसर पर यह उनको सर्वश्रेष्ठ श्रद्धांजलि है।

श्री अयोध्या जी में श्री राम मंदिर निर्माण, ब्रह्मलीन महंत दिग्विजयनाथ जी महाराज एवं ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ जी महाराज के जीवन का अभीष्ट था।

मंदिर निर्माण कार्य प्रारंभ होने के उपरांत, देश में पहली रामकथा का आयोजन श्री गोरक्षपीठ में ही हो रहा है।

यह अतीव प्रसन्नता का विषय है।

Share News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *